What Should do in life | जिंदगी मेें क्या करना चाहिये

What Should do in life | जिंदगी मेें क्या करना चाहिये ?

What Should do in life, जिंदगी मेें क्या करना चाहिये, Life, Hopeless, what should be done in life, what do we do in life, things to do with your life, Life main kya karen, Zindagi main kya karen, Gwalior, India, Information Technology, Computer Programming, Internet, Interest


मेरा नाम अंकुर है। मैं ग्‍वालियर , मध्‍यप्रदेश का रहने वाला हूँ। मैं बहुत दिनाें से सोच रहा था कि कोई्र ब्‍लॉग लिखूॅॅॅ। परन्‍तु मैं कोई भी ब्‍लॉग नहीं लिख पा रहा था। मैं अपने जीवन में टेकनोलोजी के क्षेत्र में बहुत कुछ करना चाहता था, क्‍योंकि मेरा इन्‍टरेस्‍ट Computer Programming में था, तो मैं कॉलेज में कई सारे प्रोजेक्‍ट बनाया करता था। मैं अपनी जिंदगी में प्राइवेट सेक्‍टर मेें रहकर कुछ करके आगे बढना चाहता था।  पर मेरा सिलेक्‍शन एक गर्वनमेंट डिपार्टमेंट में एक छोटी सी पोस्‍ट पर हो जाने से मेरा प्राइवेट सेक्‍टर और टेकनोलॉजी के क्षेत्र में कुछ कर गुजरने का  सपना टूट गया। आज भी में इसी तलास में रहता हूँ। शायद वो जो सपना मेरा टूट गया है। कहीं से मेरे पास आ जाये और में उन बुलंदियों को छू सकूँ जो मुझसे बहुत दूूूर छूट चुकी हैं।  रोज इंटरनेट की दुनिया में खोजता रहता हूॅ, कि कहीं से वो पल आये और मुझे मेरे सपने साकार कराये।  ये ब्‍लॉॅग में इसलिये लिख रहा हूँ, ताकि आप अपने सपनों को बीच मेें न छोडकर अपनी लाईफ को स्‍पॉईल  मत कीजीयेगा। क्‍योंकि जब आप अगर ऐसा काम करते हैं, जोे आप पसंद नहीं करते, तो हमेशा अपने आप को घुट-घुट कर मारते रहते हैं।
मैं बैंगलोर में एक प्राइवेट कंपनी मे असिस्‍टेंट सॉफ्टवेयर डेवलपर के रूप में काम करता था, मैं वहां ट्रेनिंग टाईम पर ही था, मतलब मुझे वहॉं 02 माह ही हुये थे कि मेरा सिलेक्‍शन गर्वनमेंट डिपार्टमेंट में एक छोटी सी पोस्‍ट के लिये हुआ। मेरे सिलेक्‍शन की खबर मेरे पिताजी को पता चली तो उन्‍होंने मुझे बताया कि तुम अपनी प्राइवेट नौकरी छोडकर आओ और ये गर्वनमेंट नौकरी करो। मैनें पिताजी को मना कर दिया कि मैं यहीं प्राइवेट सेक्‍टर में काम करना चाहता हॅू। पर पिताजी ने बोला की तुम यहॉं आ जाओ और गर्वनमेंट नौकरी को ज्‍वाईन करो। मैनें पिताजी की बात को काटा नहीं और मैं बैंगलोर छोडकर आ गया और मैने उस सरकारी नौकरी काेे ज्‍वाईन कर लिया। ये सरकारी नौकरी ठीक तो है पर मेरे लायक नहीं है। क्‍योंकि मैं बहुत कुछ हांसिल कर सकता था। मैं अपनी बढाई नहीं कर रहा हूँ दोस्‍तों। मैं ये सब इसलिये लिख रहा हूॅ कि मेरा इंटरेस्‍ट किसी और काम में था और आज में कर कुछ और रहा हॅू। सभी दोस्‍तों को यही बतलाना चाहता हॅू कि आप लोग मेरी तरह कोई गलती नहीं करना। आपको जाेे अच्‍छा लगे वही करना। मैं ये नहीं कह रहा हूॅ कि आप गर्वनमेंट जॉब मत करना। गर्वनमेंट जॉब भी बहुत अच्‍छी होती है, आपको जो अच्‍छा लगे वो करना। अगर आप मुझसे कोई भी बात शेयर करना चाहते हैं तो मेरे व्‍हाटसप नं. पर भी संपर्क कर सकते हैं। मेरा व्‍हाटसप नं. है 8770311013, इन्‍हीं वाक्‍यों के साथ में अपनी इस पोस्‍ट को समाप्‍त करता हूूँ।

Comments